Latest :
रिद्धिमा ने शेयर की पिता की यादें, कभी कन्यादान करते तो कभी नातिन समारा के साथ खेलते दिखे ऋषि कपूरआडवाणी, उमा, कल्याण की नहीं हो पाई गवाही, वकील की दलील- लॉकडाउन की वजह से सबसे नहीं हो पाया संपर्क; अगली सुनवाई 4 जून को होगीसोने के वायदा भाव में गिरावट, चांदी भी टूटी, जानिए क्या चल रही हैं कीमतेंसमझ नहीं आता सारे लोग धौनी के पीछे क्यों पड़े हैं, जब संन्यास लेना हुआ तो बताएंगे'1 दिन में 75 नए केस; 64 फरीदाबाद, गुड़गांव, सोनीपत व पलवल से, मास्क न पहनने और सार्वजनिक स्थान पर थूकने पर 500 रु. जुर्मानाहाईवे पर कंपनी ने सर्विस रोड का काम तेज किया, जल्द मिलेगी राहतविद्या बालन की अबतक की सबसे बोल्ड तस्वीर हुई वायरल, देखकर आपके भी उड़ जाएंगे होशमिचेल स्टार्क बोले- IPL में खेलने के लिए ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को कोई समस्या नहीं हैसरकार और आरबीआई की यह कोशिश है की डांवाडोल हो रही अर्थव्यवस्था को पटरी पर फिर से कैसे लाया जाए- एसबीआई एमडीराजस्थान, मध्यप्रदेश समेत पूरे मध्य भारत में गर्मी का टॉर्चर, इस बार भी नाैतपा में बूंदाबांदी के आसार
Haryana

ढाई साल की अंजलि को बेल्जियम के परिवार ने लिया गोद, कहा- अब कंप्लीट हुआ परिवार

September 19, 2019 11:58 AM

Star Khabre, Faridabad; 19th September : कैथल बाल उपवन से तीन साल आठ महीने की अंजलि आगे का जीवन बेल्जियम में गुजारेगी। उसे बेल्जियम के परिवार ने गोद लिया है। बाल उपवन के इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है कि किसी बच्ची को विदेशी दंपती ने गोद लिया है। इससे श्री सनातन धर्म सभा, चाइल्ड वेलफेयर कमेटी के सदस्य खुश हैं।

बेल्जियम से महिला मार्टिंन ने बताया कि वह सोशल वर्कर और एक वृद्ध आश्रम चलाती है। उसके पति आईटी इंजीनियर हैं। उसकी शादी से पहले ही इच्छा थी कि वह एक बेटी गोद लेगी और वो भी इंडिया से। उसे इंडिया पसंद है। उसने अपनी यह इच्छा पति निजक्रीस को भी बता दी थी। आज उनके दो बेटे जाराए और जोपे हैं। इसके बावजूद उनकी बेटी गोद लेने की इच्छा बनी रही।

उन्होंने चार साल पहले इंडिया से किसी बच्ची को गोद लेने के लिए आवेदन किया था। मार्टिंन ने कहा कि आज उनकी इच्छा व परिवार पूरा हो गया है। इससे वे सभी खुश हैं। उन्होंने बताया कि वे आज के दिन का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे। उन्होंने केलेंडर लगा रखा था, जिस पर हर रोज एक दिन गुजरने पर क्रास लगाते थे, ताकि वे आज के दिन को याद रख सकें। बच्ची को कागजी कार्रवाई पूरी होने के बाद आज परिवार को अंजलि को सौंपने से पहले बाल उपवन में छोटे से कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

गोद लेने वाले परिवार का आभार व्यक्त कर उनको सम्मान दिया गया है। बाल कल्याण समिति के पूर्व सदस्य रितु सिंगला ने बताया कि करीब दो साल पहले अंजलि कुरुक्षेत्र के ब्रह्मसरोवर के पास मिली थी। जिसे कैथल बाल उपवन में देखरेख के लिए भेजा गया था। सिंगला ने बताया कि करीब डेढ़ साल से यहां बच्ची का पालन पोषण हो रहा था। ये बहुत अच्छी बात है कि बच्ची विदेशी परिवार ने गोद ली है।10 बच्चे ऑडेप्शन एजेंसी और 30 बच्चे बाल उपवन में रह रहे

बाल उपवन के मैनेजर अजय श्रीवास्तव ने बताया कि इस समय अडेप्शन एजेंसी में 10 छोटे बच्चों की देखरेख की जा रही है। वहीं बाल उपवन में 30 बच्चों का पालन-पोषण किया जा रहा है। अजंलि का पासपोर्ट भी कैथल समिति ने ही बनवाया है। यह एजेंसी वर्ष 2017 से काम कर रही है। अभी तक एजेंसी ने 8 बच्चों को देश में गोद दिया है। श्री सनातन धर्म मंदिर सभा के प्रधान रवि भूषण गर्ग ने बताया कि वे खुश हैं कि बच्ची विदेश में गोद ली गई है।

 
Have something to say? Post your comment
More Haryana

1 दिन में 75 नए केस; 64 फरीदाबाद, गुड़गांव, सोनीपत व पलवल से, मास्क न पहनने और सार्वजनिक स्थान पर थूकने पर 500 रु. जुर्माना

हरियाणा में गर्मी ने 10 साल का रिकॉर्ड तोड़ा, हिसार में पारा 48 डिग्री पहुंचा, अगले 48 घंटे भी प्रचंड गर्मी के साथ भीषण लू का रेड अलर्ट जारी

दो कैंसर पीड़िताें का बीमा कराया, दोनों की मौत के बाद फर्जी रिपोर्ट दिखाकर लिया 98 लाख का क्लेम

पिहोवा में बड़े भाई ने छोटे को चाकू से गोदा; कपड़ों पर लगे खून के धब्बों से पकड़ा गया आरोपी

शराब की अवैध बिक्री पर 6 माह तक जमानत नहीं; प्रदेश के नए कानून को मिली राज्यपाल से मंजूरी

कोरोनावायरस से चावल का निर्यात प्रभावित, 10% गिरे भाव; आगे संकट और गहराने के आसार

हाउसिंग बोर्ड में 14 हजार फौजियों के फंसे‌ एक हजार करोड़ रुपए; 6 साल बाद स्थान बदलकर फ्लैट देने का ऑफर, कीमत बढ़ेगी

ओएलएक्स पर गाड़ी बेचने के नाम पर 68 हजार रु. ठगे, आरोपी ने खुद को बताया था सेना का जवान

लगातार आठवां पेपर वायरल, केंद्र के अंदर ले जा रहे मोबाइल से फोटो लेकर ग्रुप पर डाल रहे

हरियाणा: वोटिंग के लिए चुनाव आयोग देगा पेन; आज 3 बजे तक कर सकते हैं आवेदन

 
 
 
 
 
 
Copyright © 2017 Star Khabre All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech