Latest :
भोले-भाले लोगों को ठगने वाले एक शातिर गिरोह का खुलासाफरीदाबाद पुलिस ने जनहित में साईबर फ्रॉड से बचने के लिए जारी की एडवाइजरी COVID-19 के खतरे को शिक्षा के नए मॉडल में बदलने पर चर्चाफाइनल ईयर के छात्रों की परीक्षा कराने का फैसला छात्र विरोधी, जल्द वापिस ले भाजपा सरकार : कृष्ण अत्रीNSUI ने किया ऑनलाइन एडमिशन पोर्टल लांचUGC को परीक्षा पर पुनर्विचार करने का निर्देश, NSUI का मिला समर्थनचंडीगढ़ हाई कोर्ट पहुंचा हरियाणा परीक्षा परिणाम का मसलाCoca Cola अगले 30 दिन तक सोशल मीडिया पर नहीं देगी विज्ञापन, जानें क्या है इस फैसले की वजहइंग्लैंड जा रही पाकिस्तान की टीम, कब खेले जाएंगे मुकाबले पता नहीं, कोई कार्यक्रम नहीं हुआ जारीसिंगर ने कहा- एकता ने सुशांत को ब्रेक दिया था, उन्हें टार्गेट कैसे किया जा सकता है?
Sports

चैंपियन विराट कोहली को भी लगता है नाकामियों का डर, विरासत छोड़ना चाहते हैं

November 29, 2019 10:56 AM

Star khabre, Faridabad ; 29th November : भारतीय कप्तान विराट कोहली ने अपने करियर में ज्यादा नाकामियां और उतार-चढ़ाव नहीं देखे हैं, लेकिन उनका कहना है कि ऐसा नहीं है कि वह इनसे प्रभावित नहीं होते। इसका हालिया उदाहरण भारत का इंग्लैंड में वनडे वर्ल्ड कप सेमीफाइनल मैच में हारना रहा जिसमें टीम को न्यू जीलैंड ने 18 रन से शिकस्त दी।

विराट की कप्तानी में टीम इंडिया भले ही वर्ल्ड कप नहीं जीत पाई लेकिन लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रही है। हाल में उसने टेस्ट में भी वेस्ट इंडीज, साउथ अफ्रीका और बांग्लादेश को मात दी।

नाकामी से होते हैं प्रभावित

कोहली ने एक पत्रिका के साथ इंटरव्यू में कहा, ‘क्या मैं नाकामियों से प्रभावित होता हूं.. हां, होता हूं। हर कोई होता है। अंत में मैं एक बात जानता हूं कि टीम को मेरी जरूरत है। वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में मुझे लग रहा था कि मैं नॉटआउट लौटूंगा और अपनी टीम को इस मुश्किल दौर से निकाल कर लाऊंगा लेकिन हो सकता है कि वह मेरा अहंभाव हो क्योंकि आप भविष्यवाणी कैसे कर सकते हैं। आपके अंदर सिर्फ मजबूत अहसास हो सकते हैं या फिर इस तरह का कुछ करने की प्रबल इच्छाशक्ति।’

छोड़ना चाहते हैं विरासत

वनडे और टेस्ट क्रिकेट में क्रमश: 11,500 और 7,202 रन बनाने वाले कोहली अपने पीछे एक विरासत छोड़ना चाहते हैं, जिसका अनुसरण आने वाले लोग करें। उन्होंने कहा, ‘मुझे हारना पसंद नहीं है। मैं बाहर आकर यह नहीं कहना चाहता कि मैं ऐसा कर सकता था। हम उस तरह की विरासत छोड़ना चाहते हैं कि आने वाले क्रिकेटर कहें कि हमें इस तरह से खेलना है।’

मैदान पर देना चाहता हूं सब

विराट ने कहा, 'जब मैं मैदान पर कदम रखता हूं तो यह मेरे लिए खुशकिस्मती की बात होती है। जब मैं अपने खेल के बाद बाहर आता हूं तो मैं पूरी तरह थका हुआ होना चाहता हूं।'

 

 
Have something to say? Post your comment
More Sports

इंग्लैंड जा रही पाकिस्तान की टीम, कब खेले जाएंगे मुकाबले पता नहीं, कोई कार्यक्रम नहीं हुआ जारी

गौतम गंभीर बोले- सचिन की परछाई में खेलता रहा ये खिलाड़ी, लेकिन प्रभाव रहा एक जैसा

आईसीसी ने कहा- मैच फिक्सिंग रोकने के लिए भारत में इसे अपराध घोषित करना जरूरी, कड़ा कानून न होने से पुलिस के हाथ भी बंधे

पीसीबी ने कहा- इस साल एशिया कप होकर रहेगा, आईपीएल के लिए इसे नहीं टाला जा सकता

अगर चाइनीज कंपनी के बिना हुआ आईपीएल तो कहां से आएगा पैसा?

वर्ल्ड नंबर-19 दिमित्रोव की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद एड्रिया टूर चैरिटी टूर्नामेंट कैंसिल, इसके फाइनल में जोकोविच खेलने वाले थे

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के मुखिया एहसान मनी नहीं बनना चाहते ICC के बॉस, बताई वजह

एलिस पैरी बोलीं- बड़े संकट के बीच क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया है फीमेल CEO के लिए तैयार

7 साल के बैन के बाद टीम में हुई श्रीसंत की वापसी, सितंबर के बाद खेल सकेंगे रणजी ट्रॉफी

बायर्न म्यूनिख ने लगातार 8वां बुंदेसलिगा खिताब जीता, लीग के इतिहास में सबसे ज्यादा 58 में से 30 बार चैम्पियन बना

 
 
 
 
 
 
Copyright © 2017 Star Khabre All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech