Latest :
जेवर एयरपोर्ट के लिए काटे जाएंगे 6000 पेड़वर्ल्ड टूर के पहले दौर में ही हारीं पीवी सिंधु, जापान की यामागुची ने 68 मिनट में जीता मैचहाईकोर्ट ने निपटाई सपना चौधरी के खिलाफ दर्ज एफआईआर रद्द करने की याचिका, जानें मामलाराहुल द्रविड़ की फैन हैं दीपिका पादुकोण, कहा- वो मेरे ऑल टाइम फेवरेट क्रिकेटर हैंजेल में बंद गैंगस्टर जग्गू ने कहा- मेरा एनकाउंटर कर देगी पुलिस अमृतसर जेल में करा दें शिफ्टसेंसेक्स में 149 अंक की तेजी, निफ्टी 42 प्वाइंट चढ़कर 11950 के ऊपर पहुंचाNSUI के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज कुंदन और छात्रों पर लाठीचार्ज करना निंदनीय :- कृष्ण अत्रीलखनऊः सुबह चार बजे विधानसभा घेरने पहुंचे किसान, पानी की बौछारों से किया तितर-बितर, कई हिरासत मेंफास्टैग अनिवार्यता पर रोक से हाईकोर्ट का इनकार, कहा- मुश्किल होना रोक लगाने का आधार नहींबढ़त के साथ खुला बााजार, डॉलर के मुकाबले 70.89 के स्तर पर हुई रुपये की शुरुआत
National

हाईकोर्ट ने कहा- सरकार पंचायत चुनाव पुरानी अधिसूचना से कराए

November 29, 2019 11:11 AM

Star khabre, Faridabad ; 29th November : बिलासपुर. हाईकोर्ट ने पंचायत के परिसीमन को लेकर राज्य शासन के खिलाफ दायर याचिका को स्वीकार करते हुए राज्य शासन की अधिसूचना को निरस्त कर दिया है। साथ ही चुनाव कराने के बारे में निदेंश दिया है कि अगर चुनाव कराना है तो पुरानी अधिसूचना से ही कराएं। 

मामले की सुनवाई जस्टिस पी. सैम कोशी की एकलपीठ में हुई। बेमेतरा के नवागांव निवासी प्रेमचंद्र साहू ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर राज्य सरकार द्वारा सितंबर और अक्टूबर में जारी अधिसूचना को चुनौती दी। इसमें तर्क दिया कि नवागांव, करंजिया व बीरमपुर को मिलाकर ग्राम पंचायत बनाया जाना था। इसका मुख्यालय नवागांव में रखना था। लेकिन अंतिम अधिसूचना में नवागांव व मुलमुला को मिलाकर ग्राम पंचायत बना दिया। आबादी दोनों ग्रामों को मिलाकर आबादी 3 हजार है। जबकि दिशा निर्देश के मुताबिक 1 हजार आबादी पर एक ग्राम पंचायत बनानी थी। 

एक गांव की आबादी 704 होने पर भी उसको ग्राम पंचायत बना दिया गया। जहां नवागांव की आबादी 1 हजार थी। इसके बाद भी ग्राम को ग्राम पंचायत नहीं बनाया गया। उसके साथ दो हजार आबादी वाले मुलमुला गांव को और जोड़ दिया गया है।

इसके अलावा नवागांव को मुख्यालय न बनाकर मुलमुला का आश्रित ग्राम बना दिया गया। इसी प्रकार की और 10 ग्राम पंचायतों के रहने वाले लोगों ने अलग-अलग याचिकाएं प्रस्तुत की। इसमें सुनवाई का मौका नहीं दिए जाने का भी हवाला दिया गया। शासन की तरफ से कहा गया कि आपत्ति नहीं होने से यह अधिसूचना जारी की गई है।

 
Have something to say? Post your comment
More National

जेवर एयरपोर्ट के लिए काटे जाएंगे 6000 पेड़

लखनऊः सुबह चार बजे विधानसभा घेरने पहुंचे किसान, पानी की बौछारों से किया तितर-बितर, कई हिरासत में

मानहानि मामले में केजरीवाल के खिलाफ दायर शिकायत की सुनवाई पर अदालत ने लगाई रोक

मंथन के 'अमृत' से 18 जिले बनाए जाएंगे मॉडल

युवतियों ने बताई माय होम की हैवानियत- जिस दिन डांस में कम कलेक्शन, उस दिन होती पिटाई

12 दिसंबर को आएगी बारिश और हवा, उड़ जाएगा पलूशन

हैदराबाद केस के चारों आरोपियों के एनकाउंटर पर बोले कुमार विश्वास- शुक्रिया हैदराबाद पुलिस

दिल्ली-एनसीआर में आज से फिर दमघोंटू होगी हवा, कल हो सकती है गंभीर

राजस्थान में बड़ा प्रशासनिक फेरबदल, सात आईएएस अधिकारियों का तबादला, जोगाराम बने जयपुर के डीएम

इंदिरापुरम में दो बच्चों की हत्या कर दो पत्नियों के साथ आठवीं मंजिल से कूदा शख्स

 
 
 
 
 
 
Copyright © 2017 Star Khabre All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech