Latest :
जेवर एयरपोर्ट के लिए काटे जाएंगे 6000 पेड़वर्ल्ड टूर के पहले दौर में ही हारीं पीवी सिंधु, जापान की यामागुची ने 68 मिनट में जीता मैचहाईकोर्ट ने निपटाई सपना चौधरी के खिलाफ दर्ज एफआईआर रद्द करने की याचिका, जानें मामलाराहुल द्रविड़ की फैन हैं दीपिका पादुकोण, कहा- वो मेरे ऑल टाइम फेवरेट क्रिकेटर हैंजेल में बंद गैंगस्टर जग्गू ने कहा- मेरा एनकाउंटर कर देगी पुलिस अमृतसर जेल में करा दें शिफ्टसेंसेक्स में 149 अंक की तेजी, निफ्टी 42 प्वाइंट चढ़कर 11950 के ऊपर पहुंचाNSUI के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीरज कुंदन और छात्रों पर लाठीचार्ज करना निंदनीय :- कृष्ण अत्रीलखनऊः सुबह चार बजे विधानसभा घेरने पहुंचे किसान, पानी की बौछारों से किया तितर-बितर, कई हिरासत मेंफास्टैग अनिवार्यता पर रोक से हाईकोर्ट का इनकार, कहा- मुश्किल होना रोक लगाने का आधार नहींबढ़त के साथ खुला बााजार, डॉलर के मुकाबले 70.89 के स्तर पर हुई रुपये की शुरुआत
Chandigarh

पराली जलाने के आरोप में मोगा में 10 और किसानों पर केस दर्ज

December 01, 2019 11:34 AM

Star Khabre Faridabad; 1St December : खेत में पराली जलाने के आरोप में थाना सदर पुलिस ने 10 किसानों के खिलाफ केस दर्ज किया है। नामजद किए किसानों में सुखदेव सिंह, गुरदेव सिंह, बलविंदर सिंह, स्वर्ण सिंह वासी गांव कोरेवाला कलां, हरबंस सिंह वासी कोरेवाला खुर्द, तेज सिंह वासी मंगेवाला, गुरचरन सिंह, हरबंस लाल वासी कालिएवाला, अजमेर सिंह और रजिंदर सिंह वासी गांव सोसन शामिल हैं। 

इन पर आरोप है कि किसानों ने सुप्रीम कोर्ट व डिप्टी कमिश्नर के आदेशों का उल्लंघन करते हुए खेतों में पराली को आग लगाई है। किसानों के खिलाफ केस धारा 188 के अधीन केस दर्ज करने के साथ साथ जिला कृषि विभाग की ओर से किसानों के खेतों की जमाबंदी पर रेड एंट्री कर दी गई है।  जानकारी देते हुए जिला मुख्य कृषि अधिकारी डॉ. जसविंदर सिंह बराड़ ने बताया कि अभी तक जिले भर में पराली जलाने के आरोप में 600 किसानों के खिलाफ केस दर्ज हो चुके हैं, जबकि 1200 किसानों को 16 लाख का जुर्माना व 1450 किसानों के खेत की जमाबंदी में रेड एंट्री दर्ज कराई जा चुकी है।  अब ये किसान किसी भी बैंक से जमीन पर न तो लोन ले सकेंगे अथवा न ही जमाबंदी पर किसी प्रकार की सरकारी सुविधा का लाभ लिया जा सकेगा। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट व सरकार की लाख सख्ती के बावजूद इस बार पंजाब में पिछले साल से ज्यादा पराली को आग लगाई गई है। किसानों को जुर्माना करने समेत केस दर्ज करके भी प्रशासन किसानों को पराली जलाने से रोक नहीं पाया।  यहां जिला मुख्य कृषि अधिकारी डॉ. जसविंदर सिंबह बराड़ ने कहा कि पंजाब सरकार की ओर से पराली जलाकर पर्यावरण को प्रदूषित करने वाले किसानों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का प्रावधान लाना होगा, तभी जाकर पराली जलाने के मामलों पर नकेल कसी जा सकेगी। उन्होंने कहा कि इस समय पराली जलाना अपराध जमानत योग्य है, और यही कारण है कि किसान बिना किसी खौफ के खेतों में पराली को आग लगा रहें हैं

 
Have something to say? Post your comment
More Chandigarh

जेल में बंद गैंगस्टर जग्गू ने कहा- मेरा एनकाउंटर कर देगी पुलिस अमृतसर जेल में करा दें शिफ्ट

फास्टैग अनिवार्यता पर रोक से हाईकोर्ट का इनकार, कहा- मुश्किल होना रोक लगाने का आधार नहीं

अब चंदन की खुशबू से महकेगा चंडीगढ़, बनवाई गई पहली वाटिका और रोपे जा चुके हैं 2500 पौधे

ट्राईसिटी में दो स्थानों पर लुटेरों ने पिस्टल दिखा कर 6 लाख की लूट

ट्राईसिटी में दो स्थानों पर लुटेरों ने पिस्टल दिखा कर लूट की

पांच जिलों में छात्राओं के लिए चलेंगी स्पेशल बसें

13 साल की सौतेली बेटी संग पिता ने किया दुष्कर्म, करंट लगाकर मारने की धमकी दी

चंडीगढ़ में महंगी हुई बिजली, लेकिन सस्ता प्याज बेचने की तैयारी, जानें- जेब पर कितना पड़ेगा बोझ

सुखना को बचाने के दावे हुए हवा, आधी लेक तक पहुंची वीड

कर्मचारी बोले- दफ्तर नहीं आते जीएम, जवाब मिला- सीसीटीवी फुटेज निकालकर देख लें

 
 
 
 
 
 
Copyright © 2017 Star Khabre All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech