Latest :
एनआईटी-1 मार्केट : क्या दुकानदारों को बचा पाएंगे महात्मा गांधीनगर निगम के अनुसार शहर में चल रहे मात्र 7 गेस्ट हाऊसनहरपार बॉबी की बिल्डिंग, अवैध निर्माण न तोड़ने की 10 लाख में हुई डील : ऑफ़ द रिकार्डसांसे मुहिम पर्यावरण के क्षेत्र में लाएगी हरित क्रांति - विजय प्रतापवाहन चोरी करने वाले एक आरोपी को क्राईम ब्रांच एनआईटी ने किया गिरफतारसुशांत सिंह राजपूत के पिता से मिले हरियाणा मुख्यमंत्री मनोहर लालफाइनल ईयर की परीक्षा कराने का फैसला वापिस ले यूजीसी : नीरज कुंदनके० एल० महत्ता दयानंद पब्लिक सी० सै० स्कूल नंबर 1, नेहरू ग्राउंड के विद्यार्थियों ने 12वीं के रिजल्ट में लहराया परचमजल्द से जल्द धार्मिक स्थलों को खोलने की इजाज़त दे सरकार : संजय भाटियाभोले-भाले लोगों को ठगने वाले एक शातिर गिरोह का खुलासा
Entertainment

मोगैंबो के किरदार के लिए अमरीश पुरी ने खुद डिजाइन की थी कॉस्ट्यूम, डायरेक्टर बोनी कपूर ने इम्प्रेस होकर दिए थे 10 हजार रुपए

June 22, 2020 09:37 AM

Star khabre, Entertainment; 22nd June : बॉलीवुड के दिग्गज एक्टर अमरीश पुरी भले ही अब इस दुनिया में ना हों मगर उन्होंने अपने किरदारों को हमेशा के लिए अमर कर दिया है। मिस्टर इंडिया का मोगैंबो हो या डीडीएलजे के बाबूजी अमरीश ने अपनी एक्टिंग से किरादरों में चार चांद लगाए हैं। आज अमरीश जी के जन्मदिन के खास मौके पर उनके दोस्त बोनी कपूर ने भास्कर से बातचीत में उनसे जुड़े खास किस्से शेयर किए हैं।

हम पांच के लिए खुद डिजाइन की थी बिग

अमरीश पुरी को बड़ी स्टारडम मेरी फिल्म हम पांच से मिली। वे अपने काम को लेकर इतने डेडीकेटेड थे कि हर चीज की डिटेल्स में जाते थे। इस फिल्म में अमरीश जी ने अपनी बिग खुद ही डिजाइन की थी। निर्देशक बापू जी ने उन्हें इशारों में कुछ बताया और स्केच बनाकर दिया था। उसके बाद तो उन्होंने अपनी बिग खुद ही डिजाइन की।

फिल्म हिट होने पर दिया 10 हजार रुपए बोनस

हम पांच के लिए अमरीश पुरी को 40 हजार रुपए फीस दी गई थी। फिल्म हिट होने के बाद उन्हें बोनस के रूप में 10 हजार रुपए और दिया तो खुश हो गए। उस समय प्राण और बाकी विलेन 3 लाख रुपए लिया करते थे। मैंने उनसे पिक्चर बनते समय कहा था कि इसके बाद आपकी प्राइस बढ़कर ढाई लाख रुपए हो जाएगी। हम पांच से पहले भी उन्होंने पिक्चरों में रोल किया था, पर हम पांच से जो स्टारडम और पहचान मिली, वह अब तक के किए गए सभी किरदारों से कहीं ज्यादा थी। इस तरह हमारा साथ शुरू हुआ।

मिस्टर इंडिया में अमरीश से पहले कई एक्टर का लिया था ऑडिशन

मिस्टर इंडिया के लिए हम फ्रेश फेस देना चाह रहे थे।  इसके लिए मुंबई में जितने भी विलेन थे, उन सभी के ऑडिशन लिए थे। लेकिन जावेद ने जिस रुवाब से मोगैंबो के किरदार को लिखा था, उस पर कोई सही उतर नहीं पा रहा था तो हमने फाइनली अमरीश पुरी जी को ही लेना सही समझा। उस समय वे बहुत बिजी चल रहे थे। हमने उनसे कहा कि मुझे अगले हफ्ते से आपके 60 दिन चाहिए, क्योंकि पूरे क्लाइमैक्स के लिए आर के स्टूडियो में हमारे कुल 5 सेट लगे थे। उन्होंने तुरंत हां बोल दिया। 

दरअसल जब एक्टर्स पास जाते हैं तो वह कहते हैं कि सोचेंगे, करेंगे। उन्होंने कहा कि मैंने इसके बारे में बहुत सुना है और मैं खुश हूं कि तुम फाइनली मेरे पास आ गए। मैं जो भी डेट होगी आपकी उससे मैच करूंगा। इस तरह हमने शूटिंग शुरू की और बड़े विलेन के रूप में अमरीश पुरी का एक नया चेहरा सामने आया। हमने हम पांच में भी उन्हें इसीलिए लिया था कि यह एक फ्रेश फेस हैं। शोले में जब अमजद खान लाॉन्च हुए थे, वह भी बिल्कुल फ्रेश फेस थे।

मोगैंबो के लिए खुद डिजाइन करवाए कॉस्टयूम

हमने अमरीश पुरी को मोगैंबो तो बना लिया था, पर हमारे दिमाग में उसकी कॉस्टयूम और गेटअप क्लीयर नहीं था। पूरा गेटअप बनाने में अमरीश पुरी का बड़ा हाथ रहा। अपने खास टेलर माधव के साथ मिलकर अमरीश ने पूरा गेटअप डिजाइन बनवाया। मैं उस कॉस्टयूम से इतना प्रभावित हुआ था कि मैंने उनके डिजाइनर माधव को उस समय 10 हजार रुपए बोनस में दिए। हमारे मन में विलेन का किरदार तो था, पर क्लियर विजुअल नहीं था। इसे अमरीश जी ने खुद बनाया। बिग, कॉस्टयूम, हाथ में ली हुई छड़ी सब अमरीश ने खुद ही माधव के साथ डिजाइन की थी।

मोगैंबो के लिए किया खूब रिहर्सल 

अमरीश पुरी की आदत थी, जब उन्हें रोल भा जाता था, तब वह हर चीज की डिटेलिंग में जाते थे और मोगैंबो की हर डिटेलिंग में जाकर उन्होंने कमाल का काम किया। इस किरदार को जीवंत करने के लिए उन्होंने खूब रिहर्सल की थी। उन्होंने हर डायलॉग जावेद जी के साथ बैठकर पढ़ा था साथ ही सेट पर शेखर ने भी उनसे रिहर्सल्स करवाई। उन्होंने हर चीज के लिए बहुत ज्यादा कड़ी मेहनत की थी।

पूरा क्रेडिट में अमरीश पुरी को देना चाहूंगा

हीरो बड़ा तब होता है, जब सामने विलेन टक्कर का हो। मिस्टर इंडिया के सामने हमें बड़ा विलेन चाहिए था और मैं नहीं समझता कि अमरीश पुरी से बड़ा विलेन कोई हो सकता है। इसका पूरा क्रेडिट मैं अमरीश पुरी को देना चाहूंगा। खैर, लाइन तो जावेद जी ने लिखी थी- मोगेंबो खुश हुआ। यह तकिया कलाम लोग आज तक याद करते हैं, पर इस किरदार में चार चांद अमरीश पुरी ने अपनी मेहनत से लगाए थे।

मोगैंबो की कामयाबी से मिली और फिल्में

मिस्टर इंडिया के बाद हमने विरासत में उनके साथ काम किया। इस पूरे प्रोजेक्ट का सेटअप मैंने किया था। इसमें फिर अमरीश जी ने पॉजिटिव रोल किया था और कमाल का काम किया था। साथ ही मिस्टर इंडिया के बाद उन्होंने उनकी हॉलीवुड की पहली फिल्म की, साथ ही साउथ के भी नंबर वन विलेन हो गए थे। वे वहां की भी बड़ी फिल्मों में विलेन हुआ करते थे। यह सब मोगैंबो पर की हुई उनकी मेहनत की वजह से था।

 
Have something to say? Post your comment
More Entertainment

सिंगर ने कहा- एकता ने सुशांत को ब्रेक दिया था, उन्हें टार्गेट कैसे किया जा सकता है?

अर्जुन कपूर के बर्थडे पर मलाइका अरोड़ा ने स्पेशल अंदाज में दी बधाई

सोनू निगम के आरोपों पर दिव्या कुमार का पलटवार, बोलीं- भूल गए क्या 5 रुपए में दिल्ली की रामलीला में गाना गाते थे

इरफान खान के बेटे बाबिल ने कहा, 'नेपोटिज्म के खिलाफ आवाज उठाइए लेकिन सुशांत के नाम का इस्तेमाल मत कीजिए'

सुशांत सिंह राजपूत को लेकर राखी सावंत ने कह दिया कुछ ऐसा, यूजर्स ने कहा- थोड़ी तो शर्म करो

सुशांत सिंह राजपूत से ब्रेकअप के बाद भी अपने प्यार की निशानी को सहेज कर रख रखी थीं अंकिता लोखंडे, एक्टर के निधन के बाद सच्चाई आई सामने

विद्युत जामवाल ने दिया ट्रोलर को जवाब- दिवंगत आत्मा और उसका परिवार ट्वीट्स नहीं पढ़ रहा है, तो किसके लिए लिखना है

सुशांत स‍िंह राजपूत के निधन पर कंगना रनौत के वीडियो पर उठा सवाल, तो उनकी टीम ने दिया करारा जवाब

'दबंग' डायरेक्टर अभिनव सिंह कश्यप के आरोप पर सलीम खान ने दिया करारा जवाब, बोले- 'कल के आए हुए लोग सवाल करते हैं'

'आई एम ए डिस्को डांसर' के बाद मिथुन से बना चोली दामन का रिश्ता, जन्मदिन पर बप्पी दा ने दी स्पेशल बधाई

 
 
 
 
 
 
Copyright © 2017 Star Khabre All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech