Latest :
एनआईटी-1 मार्केट : क्या दुकानदारों को बचा पाएंगे महात्मा गांधीनगर निगम के अनुसार शहर में चल रहे मात्र 7 गेस्ट हाऊसनहरपार बॉबी की बिल्डिंग, अवैध निर्माण न तोड़ने की 10 लाख में हुई डील : ऑफ़ द रिकार्डसांसे मुहिम पर्यावरण के क्षेत्र में लाएगी हरित क्रांति - विजय प्रतापवाहन चोरी करने वाले एक आरोपी को क्राईम ब्रांच एनआईटी ने किया गिरफतारसुशांत सिंह राजपूत के पिता से मिले हरियाणा मुख्यमंत्री मनोहर लालफाइनल ईयर की परीक्षा कराने का फैसला वापिस ले यूजीसी : नीरज कुंदनके० एल० महत्ता दयानंद पब्लिक सी० सै० स्कूल नंबर 1, नेहरू ग्राउंड के विद्यार्थियों ने 12वीं के रिजल्ट में लहराया परचमजल्द से जल्द धार्मिक स्थलों को खोलने की इजाज़त दे सरकार : संजय भाटियाभोले-भाले लोगों को ठगने वाले एक शातिर गिरोह का खुलासा
Sports

आईसीसी ने कहा- मैच फिक्सिंग रोकने के लिए भारत में इसे अपराध घोषित करना जरूरी, कड़ा कानून न होने से पुलिस के हाथ भी बंधे

June 25, 2020 02:26 PM

Star Khabre, National; 25th June : इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) के एंटी करप्शन यूनिट(एसीयू) के कोऑर्डिनेटर स्टीव रिचर्डसन का मानना है कि भारत में मैच फिक्सिंग को अपराध घोषित करने पर ही इस पर लगाम लगाई जा सकेगी। उन्होंने कहा कि देश में कड़ा कानून नहीं होने की वजह से क्रिकेट में करप्शन की जांच करते वक्त अधिकारियों के हाथ बंधे रहते हैं।   

रिचर्डसन ने ईसपीएन क्रिकइंफो से कहा, ‘‘फिलहाल इसको लेकर कोई कानून नहीं है। इसके बावजूद हम भारतीय पुलिस के साथ मिलकर मैच फिक्सिंग रोकने के लिए काम कर रहे हैं। आईसीसी के पास भी मैच फिक्सिंग रोकने के लिए सीमित संसाधन है, जिसका फायदा फिक्सिंग में शामिल लोग उठाते हैं।’’

इस एसीयू अधिकारी ने कहा, ‘‘भारत में कानून बनने से हालात बदल जाएंगे। अभी हम फिक्सिंग से जुड़े 50 मामलों की जांच कर रहे हैं और इनमें से अधिकतर भारत से जुड़े हुए हैं।’’
श्रीलंका में 10 साल की सजा हो सकती है
दक्षिण एशिया में केवल श्रीलंका ऐसा देश है, जिसने 2019 में मैच फिक्सिंग को कानून अपराध घोषित किया था। यहां दोषी पाए जाने पर 10 साल की सजा हो सकती है। उन्होंने कहा,‘‘भारत में 2021 से 2023 के बीच टी-20 और वनडे वर्ल्ड कप जैसे दो बड़े टूर्नामेंट होने हैं। इस पर सट्टेबाजों की नजर होगी। ऐसे में अगर भारत मैच फिक्सिंग को लेकर कानून बनाता है, तो खेल को सुरक्षित रखने के इरादे से यह असरदार साबित होगा। 

अभी भी फिक्सर खिलाड़ियों से सम्पर्क साधने की कोशिश कर रहे

आईसीसी अधिकारी ने कहा कि भारत में इस तरह का कानून बनने से खिलाड़ियों के बजाए उन भ्रष्ट लोगों को रोका जा सकेगा, जो अभी खुले घूम रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मैं कम से कम आठ लोगों के नाम भारतीय पुलिस या भारत सरकार को सौंप सकता हूं, जो मैच फिक्स करने के लिए खिलाड़ियों से संपर्क करने की लगातार कोशिश करते हैं।’’

सट्टेबाजी से हर साल 40 हजार करोड़ तक की अवैध कमाई होती 

हाल ही में बीसीसीआई की एसीयू यूनिट के प्रमुख अजीत सिंह ने कहा था कि जल्दी पैसा कमाने के चक्कर में सट्टेबाज खिलाड़ियों, सपोर्ट स्टाफ, ऑफिशियल्स से संपर्क करते हैं। हर साल सट्टेबाजी के जरिए 30 से 40 हजार करोड़ रुपए की कमाई होती है। कई स्टेट क्रिकेट लीग की जांच के दौरान यह पता चला कि कुछ मैचों में यह रकम करीब 19 करोड़ तक थी।

 
Have something to say? Post your comment
More Sports

इंग्लैंड जा रही पाकिस्तान की टीम, कब खेले जाएंगे मुकाबले पता नहीं, कोई कार्यक्रम नहीं हुआ जारी

गौतम गंभीर बोले- सचिन की परछाई में खेलता रहा ये खिलाड़ी, लेकिन प्रभाव रहा एक जैसा

पीसीबी ने कहा- इस साल एशिया कप होकर रहेगा, आईपीएल के लिए इसे नहीं टाला जा सकता

अगर चाइनीज कंपनी के बिना हुआ आईपीएल तो कहां से आएगा पैसा?

वर्ल्ड नंबर-19 दिमित्रोव की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद एड्रिया टूर चैरिटी टूर्नामेंट कैंसिल, इसके फाइनल में जोकोविच खेलने वाले थे

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के मुखिया एहसान मनी नहीं बनना चाहते ICC के बॉस, बताई वजह

एलिस पैरी बोलीं- बड़े संकट के बीच क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया है फीमेल CEO के लिए तैयार

7 साल के बैन के बाद टीम में हुई श्रीसंत की वापसी, सितंबर के बाद खेल सकेंगे रणजी ट्रॉफी

बायर्न म्यूनिख ने लगातार 8वां बुंदेसलिगा खिताब जीता, लीग के इतिहास में सबसे ज्यादा 58 में से 30 बार चैम्पियन बना

39 साल के मोहम्मद हफीज को रमीजा राजा की बातों पर आया गुस्सा, कहा- मेरे बारे में सोचना बंद करो

 
 
 
 
 
 
Copyright © 2017 Star Khabre All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech