Latest :
सेक्टर 12 परेड ग्राउंड से परेड कर लौट रहे होमगार्ड की मौतएनएसयूआई से डर कर खट्टर सरकार ने पुलिस को किया आगे : कृष्ण अत्रीशहर में दो घटनाएं घटित, आत्महत्या और एक नाईजीरियन गिरफ्तारमंदिर बांटे, मस्जिद बांटे, मत बांटो इंसान कोवरिष्ठ कांग्रेसी नेता लखन सिंगला ने दी स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएंट्रक चालक को मारी गोली, घायल अवस्था में अस्पताल में भर्तीविद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में धूमधाम से मनाया गया स्वतंत्रता दिवसशहर में हुई लूट और आत्महत्या की घटनाएं घटित जाने कहांसंदिग्ध हालत में मिली युवक की लाशमुस्लिम युवक ने किया 4 साल की बच्ची से बलात्कार, हुआ गिरफ्तार
City Icon

रामलीला के निर्देशक हैं व्यवसायी अनिल चावला

October 17, 2015 11:53 AM

Shikha Raghav, Star Khabre, Faridabad : रेडीमेंट गारमेंट्स का व्यवसाय करने वाले अनिल चावला सेक्टर-15 श्री श्रद्धा रामलीला कमेटी के निर्देशक हैं। जबकि वह रामलीला के मंच पर लक्ष्मण के किरदार में अभिनय भी करते हुए नजर आ रहे हैं। फरीदाबाद सेक्टर-7 निवासी चावला परिवार के बड़े पुत्र अनिल चावला सेक्टर-7 में ही रेडीमेंट गारमेंट्स का काम करते हैं। अनिल चावला ने बताया कि उनका जन्म पलवल में हुआ। उन्होंने बताया कि जब वह छोटे थे तो अपने पिताजी के साथ रामलीला देखने जाते थे। वहीं से उन्हें रामलीला में अभिनय करने की इच्छा हुई और उन्होंने तभी से रामलीला में अभिनय करना शुरू कर दिया। अनिल बताते हैं कि उन्होंने 25 वर्ष पूर्व पलवल में श्री सनातन धर्म रामलीला कमेटी के मंच पर हनुमान व रावण की सेना में भाग लेकर अभिनय की शुरुआत की। बाद में उन्होंने भरत और हनुमान की भूमिका बखूबी निभाई। चार वर्ष बाद श्री सनातन धर्म रामलीला कमेटी के मंच पर निर्देशक ने उन्हें लक्ष्मण के  रूप में उतारा और तब से वह पिछले 21 वर्षों से लक्ष्मण की भूमिका को निभा रहे हैं। जबकि श्रद्धा रामलीला कमेटी में वह पिछले आठ वर्षों से निर्देशक के रूप में भी काम कर रहे हैं।

चावला परिवार के बड़े पुत्र अनिल चावला राम के छोटे भाई लक्ष्मण की भूमिका अदा कर रहे हैं। श्री चावला ने बताया कि वह वर्ष 1989 में वह सब पलवल से फरीदाबाद आ बसे थे लेकिन उसके बावजूद रामलीला में अभिनय करने के लिए वह पलवल जाते रहे। वर्ष 2008 से वह फरीदाबाद सेक्टर-15 श्रद्धा रामलीला कमेटी में निर्देशक की भूमिका निभा रहे हैं। साथ ही वह यहां लक्ष्मण का किरदार कर रहे हैं। अनिल ने अपने किरदार के बारे में बात करते हुए कहा कि लक्ष्मण के किरदार से उन्हें और त्याग की भावना की सीख मिलती हैं। जबकि लक्ष्मण के किरदार में रहते हुए उन्हें राम की सेवा करने का मौका मिलता है। वह कहते हैं कि राम की सेवा करने के लिए तो देवता भी तरसते हैं लेकिन रामलीला के मंच पर उन्हें यह मौका मिलता है, जिसे वह खोना नहीं चाहते। यही कारण है कि वह पिछले 21 वर्षों से राम के छोटे भाई लक्ष्मण की भूमिका निभा रहे हैं।

 
Have something to say? Post your comment
More City Icon
 
 
 
 
 
 
Copyright © 2017 Star Khabre All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech