Latest :
उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने सेक्टर 7 में किया पार्क के सौंदर्यकरण कार्य का शुभारंभसेहत का ख्याल रखने वाले जीवन में आगे अवश्य बढ़ते हैं- लखन सिंगलादशहरा पर्व : प्रशासन के साथ 14 सदस्यीय कमेटी मनाएगी दशहराश्री श्रद्धा रामलीला कमेटी में 50 फुट ऊंचे हवा में दिखाया संजीवनी पर्वत का दृश्य श्रीराम के आदर्शों पर चलें भारत के लोग - लखन सिंगलाभगवान ने हमें काबिल बनाने के लिए मानव जन्म दिया- स्वामी पुरुषोत्तमाचार्यदशहरा पर्व : नौ नामजद आरोपियों में से सात आरोपी पहुंचे नीमका जेलUP और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी का निधनदशहरा पर्व : 9 लोगों सहित अन्य पर मामला दर्ज, दुम दबाकर भागे राजेश भाटियादशहरा पर्व : जाने क्या हुआ सिद्धपीठ श्री हनुमान मंदिर और दशहरा ग्राउंड पर, पढ़े पूरी खबर
Chandigarh

राज्य में फैली हिंसा को लेकर पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने खट्टर सरकार को लताड़ा

August 26, 2017 01:22 PM

Star Khabre, Chandigarh; 26th August : साध्वी रेप केस में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को सीबीआई कोर्ट की ओर से दोषी करार दिए जाने के बाद समर्थकों ने पंजाब, हरियाणा से लेकर दिल्ली तक गुंडागर्दी शुरू कर दी. लगातार पुलिस पर पथराव और गाडियों के जलाने की खबरें आईं. इसके बाद पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट ने इस पर बड़ा फैसला लेते हुए राम रहीम की संपत्ति को जब्त करने का आदेश दिया. आज फिर इस मामले पर हाई कोर्ट में सुनवाई शुरू हो गई है.

हाई कोर्ट ने कहा है कि अब डेरा सच्चा सौदा की पूरी प्रॉपर्टी सरकार के कब्जे में रहेगी और अब उन्हें अगले आदेश तक बेचा नहीं जा सकता. इस मामले पर मंगलवार को दोबारा सुनवाई होगी.

आज हाई कोर्ट ने बहुत ही साफ शब्दों में मैसेज दिया है कि जो भी कानून के खिलाफ काम करेगा उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

हाई कोर्ट ने ये भी पूछा है कि राम रहीम के काफिले को लेकर कोर्ट को क्यों गुमराह किया गया. सरकार ये भी जवाब दे कि राम रहीम के काफिले में पांच से ज्यादा गाड़ियों को क्यों जाने दिया गया.

हाई कोर्ट ने सरकार से कहा है कि उन लोगों की लिस्ट हाई कोर्ट को दी जाए जिन्होंने पब्लिक प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचाया. उनकी संपत्ति कुर्क करके नुकसान की भरपाई की जाएगी.

हाई कोर्ट ने ये भी कहा कि जिन अफसरों ने धारा 144 के बावजूद लोगों को एक जगह इकट्ठा होने दिया उनके नाम बताएँ जाएँ

कल हुई हिंसा को लेकर हाई कोर्ट ने राज्य सरकार को लगाई फटकार, कहा- राजनीतिक फायदे के लिए सरकार ने ऐसा होने दिया.

हाईकोर्ट ने कल पुलिस से राम रहीम की संपत्तियों का ब्यौरा भी मांगा था. आज पुलिस ने हाई कोर्ट को जानकारी देते हुए बताया कि उन्होंने 36 डेरों को सील करने का काम शुरु कर दिया गया है.

बता दें कि कल हाई कोर्ट ने कहा था कि इस हिंसा में हुए नुकसान की भरपाई राम रहीम की संपत्ति जब्त करके की जाए.

आपको बता दें कि इस केस में फैसला आने के बाद पंजाब, हरियाणा में राम रहीम के समर्थक बेकाबू हो गए. राम रहीम के समर्थक कोर्ट परिसर के पास सुनवाई के पहले से ही मौजूद थे. फैसला आते ही उनके समर्थकों ने पुलिस पर पथराव करना शुरू कर दिया. आलम ये था कि पुलिस पर उनकी गुंडागर्दी भारी पड़ी. बेकाबू हुए समर्थकों को पुलिस काबू में ना ला सकी और इस हिंसा में अब तक कुल 31 लोगों की मौत हो चुकी है.

 

 
Have something to say? Post your comment
More Chandigarh

हरियाणा सरकार ने टीचरों का बढ़ाया वेतन

पांच हजार करोड़ रुपये की मुनाफाखोरी का खेल है गुरुग्राम भूमि घोटाला

हरियाणा में घिरी कांग्रेस : एक और जमीन अधिग्रहण मामले में हुड्डा के खिलाफ मामला दर्ज, रणदीप सिंह सुरजेवाला को नोटिस

चावल घोटाला: हरियाणा में 94 राइस मिलर्स ब्लैकलिस्ट, FIR के बाद अब गिरेगी ऐसी गाज

हरियाणा में कांग्रेस के दिग्गजों में छि़ड़ी लड़ाई, भाजपा ले रही आनंद

मोरनी में युवती से 40 लोगों के दुष्‍कर्म का मामला गर्माया, राहुल गांधी का ट्वीट- संसद में उठाएंगे

कैप्टन अभिमन्यु के परिवार को जिंदा जलाना चाहती थी भीड़

हरियाणा के 95 अफसरों के खिलाफ होगी चार्जशीट

मुख्यमंत्री ने पत्रकारों की पेंशन के आवेदन फार्म को ऑनलाईन भरकर किया सुविधा का शुभारंभ

हरियाणा में नियमित होंगी अवैध कामर्शियल बिल्डिंग, घर में खोल सकेंगे दुकान

 
 
 
 
 
 
Copyright © 2017 Star Khabre All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech