Latest :
कर्नाटक में सरकार बनी तो लड्डू बांटकर मनाई खुशीसबसे कम उम्र के प्रधानमंत्री बनने वाले व्यक्ति थे भारत रत्न स्वर्गीय राजीव गांधी : कृष्ण अत्रीराजीव जी के विचारों को नहीं हरा पाएंगे देश बांटनेवाले - लखन सिंगलाऐसी प्रतियोगिताओं से बढ़ती हैं बच्चों की स्मरण शक्ति : सुमन बालाविद्यासागर इंटरनेशनल स्कूल में बच्चों ने इंज्वाय की समर पार्टीपूर्व पार्षद एवं कांग्रेस डेलीगेट लखन कुमार सिंगला ने आंदोलनरत कर्मचारियों को दिया समर्थनपत्रकार उत्पीडऩ के विरोध में फरीदाबाद के पत्रकारों का धरनापरम श्रद्धेय महामँडलेश्वर गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानंद महाराज करेंगे गीता सत्संगजनता के मन में जात पांत का जहर घोल रही भाजपा - लखन सिंगलाGST का गोरखधंधा
Chandigarh

हरियाणा कांग्रेस में गुटबाजी तेज, एक-दूसरे से आगे निकलने की होड़ में हुड्डा-तंवर

December 24, 2017 12:48 PM

Star Khabre, Haryana; 24th December : कांग्रेस अध्यक्ष पद पर राहुल गांधी की ताजपोशी के बाद हरियाणा के कांग्रेसियों में अध्यक्ष पद हथियाने के लिए कुर्सी की लड़ाई तेज हो गई है। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा जहां फरवरी में रथ पर सवार होकर पूरे प्रदेश का भ्रमण करेंगे, वहीं उनकी रथयात्रा से पहले प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर ने साइकिल यात्रा निकालने का एलान कर दिया है।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हर जिले में दो दिन का प्रवास शुरू कर रखा है। उसके जवाब में हुड्डा एक दिन में दो-दो विधानसभा क्षेत्र कवर करते हुए रात के समय विधानसभा क्षेत्रों में प्रवास करेंगे। इसकी शुरुआत 26 दिसंबर से हो जाएगी। हुड्डा अपने विधानसभा क्षेत्र में 27 व 31 दिसंबर को भी रहेंगे। 24 जनवरी को मुख्यमंत्री के निर्वाचन क्षेत्र करनाल में किसान-मजदूर पंचायत करते हुए हुड्डा मुख्यमंत्री को ललकारेंगे। फिर फरवरी में उनकी रथयात्रा शुरू हो जाएगी। रथयात्रा से पहले हुड्डा ने राज्य के सभी 90 हलकों में दस्तक देने का कार्यक्रम तैयार किया है। दूसरी तरफ हुड्डा के विधानसभा प्रवास, सीएम के गढ़ में रैली और रथयात्रा के आयोजन के जवाब में हरियाणा कांग्रेस के अध्यक्ष अशोक तंवर ने साइकिल पर पूरे प्रदेश को नापने की रूपरेखा तैयार कर ली। तंवर साल के पहले दिन 1 जनवरी को फतेहाबाद में जन संघर्ष रैली करते हुए ताकत दिखाएंगे। मौसम साफ होते ही पूरे प्रदेश में तंवर की साइकिल यात्राओं का दौर शुरू होगा।

इन यात्राओं के जरिए तंवर लोगों के बीच जाकर उनकी समस्याएं सुनेंगे और कार्यकर्ताओं को एकजुट करते हुए हाईकमान में नजर में अपनी उपस्थिति दर्ज कराएंगे। हुड्डा और तंवर की इस रस्साकसी को प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी और हरियाणा की राजनीति में खुद को कांग्रेस के मुख्य नेता के रूप में स्थापित करने की कोशिश के रूप में देखा जा रहा है। तंवर हालांकि खुद को अध्यक्ष मानते हुए अपनी कुर्सी सेफ बता रहे, लेकिन जिस तरह से हुड्डा समर्थक विधायकों ने हाईकमान पर तंवर को बदलने व हुड्डा को अध्यक्ष बनाने का दबाव बनाया हुआ है, उसके मद्देनजर अब हरियाणा के कांग्रेसियों की लड़ाई भविष्य में रोचक होने के पूरे आसार हैं।

 
Have something to say? Post your comment
More Chandigarh

हरियाणा में बढ़ रहा भ्रष्ट अफसरों में खौफ, फिर भी राहत नहीं

हरियाणा कैबिनेट में किसी भी समय हो सकता है बड़ा फेरबदल

हरियाणा में 300 करोड़ का चावल घोटाला, 21 राइस मिलर्स पर केस, कई अफसरों भी नपेंगे

हरियाणा सरकार के मंत्री जल्द होंगे पावरफुल, जाने क्या मिलेंगे अधिकार ?

मनोहर कैबिनेट में सब कुछ ठीक नहीं, बिना डिनर किए बैठक से चले गए अनिल विज ?

गरीब बच्‍चों को मुफ्त दाखिला देने से निजी स्कूलों का इनकार

सिविल सर्जनों की सुस्ती से दवाओं का पैसा लौट रहा सरकारी खजाने में, भटक रहे मरीज

हरियाणा में समय से पहले नहीं होंगे विधानसभा चुनाव : मनोहर लाल

राष्ट्रीय कांग्रेस में बढ़ा हरियाणा का दबदबा, हुड्डा सहित चार नेताओं के बड़ी जिम्मेदारी

हरियाणा में अब बच्चियों के दुष्कर्मियों को मिलेगी फांसी, कानून में संशोधन का प्रस्ताव मंजूर

 
 
 
 
 
 
 
Copyright © 2017 Star Khabre All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech