Latest :
रिद्धिमा ने शेयर की पिता की यादें, कभी कन्यादान करते तो कभी नातिन समारा के साथ खेलते दिखे ऋषि कपूरआडवाणी, उमा, कल्याण की नहीं हो पाई गवाही, वकील की दलील- लॉकडाउन की वजह से सबसे नहीं हो पाया संपर्क; अगली सुनवाई 4 जून को होगीसोने के वायदा भाव में गिरावट, चांदी भी टूटी, जानिए क्या चल रही हैं कीमतेंसमझ नहीं आता सारे लोग धौनी के पीछे क्यों पड़े हैं, जब संन्यास लेना हुआ तो बताएंगे'1 दिन में 75 नए केस; 64 फरीदाबाद, गुड़गांव, सोनीपत व पलवल से, मास्क न पहनने और सार्वजनिक स्थान पर थूकने पर 500 रु. जुर्मानाहाईवे पर कंपनी ने सर्विस रोड का काम तेज किया, जल्द मिलेगी राहतविद्या बालन की अबतक की सबसे बोल्ड तस्वीर हुई वायरल, देखकर आपके भी उड़ जाएंगे होशमिचेल स्टार्क बोले- IPL में खेलने के लिए ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को कोई समस्या नहीं हैसरकार और आरबीआई की यह कोशिश है की डांवाडोल हो रही अर्थव्यवस्था को पटरी पर फिर से कैसे लाया जाए- एसबीआई एमडीराजस्थान, मध्यप्रदेश समेत पूरे मध्य भारत में गर्मी का टॉर्चर, इस बार भी नाैतपा में बूंदाबांदी के आसार
National

शाहीन बागः गिरफ्तार आतंकी दंपती पर बड़ा खुलासा, ऐसे करते थे विदेशी आकाओं से संपर्क

March 09, 2020 11:01 AM

Star khabre, National; 09th March : राष्ट्रीय राजधानी में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध के पीछे आतंकी संगठन आईएसआईएस का लिंक सामने आया है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने रविवार को ओखला क्षेत्र के जामिया नगर में छापा मारकर जम्मू-कश्मीर के मूल निवासी एक दंपती को गिरफ्तार किया, जो आईएस के अफगानिस्तान में सक्रिय मॉड्यूल इस्लामिक स्टेट ऑफ खोरासन प्रॉविंस (आईएसकेपी) से संपर्क में थे और जल्द ही देश में किसी बड़े आत्मघाती हमले को अंजाम देने की तैयारी में थे।

दोनों इसके लिए लगातार सीएए विरोध के बहाने शाहीन बाग व जामिया क्षेत्र के युवाओं को बरगला रहे थे। दिल्ली पुलिस ने दोनों से पूछताछ में मिली जानकारी के आधार पर सर्च अभियान चालू कर दिया है।

दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद सिंह कुशवाहा के मुताबिक, आरोपी दंपती की पहचान जहांजेब सामी और उसकी पत्नी हिना बशीर बेग के तौर पर हुई है। दोनों पिछले साल जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद-370 खत्म होने पर श्रीनगर से अगस्त में दिल्ली पहुंचे थे।

पुलिस टीम को उनके पास से इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, जिहादी विचारों को बढ़ावा देने वाली भड़काऊ किताबें व अन्य आपत्तिजनक सामग्री बरामद हुई है। कुशवाहा ने बताया कि दोनों शाहीन बाग व जामिया के सीएए विरोधी प्रदर्शन में तीन महीने से सक्रिय थे। सीएए के विरोध को लंबा चलाने के लिए ये दोनों प्रदर्शनकारियों को जिहाद के नाम पर भड़काते थे।

व्हाट्सएप से संपर्क करते थे अफगानिस्तान

सामी और हिना लगातार सोशल मीडिया और व्हाट्सएप कालिंग के जरिये आईएसकेपी के वरिष्ठ सदस्यों से अफगानिस्तान में संपर्क बनाए हुए थे। सामी खुद को अमीर ऑफ विलाया हिंद कहलाने वाले खोरासान के हुजैफा बाकिस्तानी से भी संपर्क में था, जो अब मारा जा चुका है।

इसके अलावा सामी ने पूछताछ में यह भी बताया कि उसने आईएस की ‘सॉत अल-हिंद (वॉयस ऑफ इंडिया)’ पत्रिका के फरवरी अंक के प्रसार में भी सक्रिय भूमिका निभाई थी।

 
Have something to say? Post your comment
More National

आडवाणी, उमा, कल्याण की नहीं हो पाई गवाही, वकील की दलील- लॉकडाउन की वजह से सबसे नहीं हो पाया संपर्क; अगली सुनवाई 4 जून को होगी

राजस्थान, मध्यप्रदेश समेत पूरे मध्य भारत में गर्मी का टॉर्चर, इस बार भी नाैतपा में बूंदाबांदी के आसार

जनता कर्फ्यू के दिन भी शाहजमाल धरना जारी, महिलाएं नहीं मानीं

कोरोना का खौफ: मस्जिदों में लपेटी गईं चटाइयां, लोगों से घर पर नमाज पढ़ने की अपील

संसद पहुंचे पूर्व चीफ जस्टिस गोगोई, आज राज्यसभा सदस्य के रूप में लेंगे शपथ

निर्भया केसः जेल कर्मचारियों को बनाया दोषी, कपड़े बदलकर फांसी घर तक ले गए, फिर हुआ डमी ट्रायल

लापरवाही : तीन दिन दिल्ली में बदलता रहा होटल, राजधानी एक्सप्रेस से भुवनेश्वर पहुंचा कोरोना

यूपी के 11 जिलों में सिनेमा हॉल, मल्टीप्लेक्स, स्विमिंग पूल, क्लब, डिस्को और जिम 31 मार्च तक बंद

राजस्थान में ट्रक और जीप की टक्कर में 11 लोगों की मौत, तीन घायल

थोड़ी देर में राज्यपाल से मिलेंगे कमलनाथ, राज्यसभा के लिए नामांकन भरने जाएंगे ज्योतिरादित्य सिंधिया

 
 
 
 
 
 
Copyright © 2017 Star Khabre All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech